विपक्षी एकता का कांग्रेसी सपना चकनाचूर! इस पूर्व सीएम का अकेले चुनाव लड़ने का ऐलान, धारा 370 पर विरोध फिर भी NDA में …

0

नई दिल्ली. विपक्षी गठबंधन गुट ‘इंडिया’ (INDIA Bloc) को एक और झटका देते हुए नेशनल कॉन्फ्रेंस के अध्यक्ष फारूक अब्दुल्ला (Farooq Abdullah) ने गुरुवार को कहा कि उनकी पार्टी आगामी लोकसभा चुनाव (Lok sabha Election) में सभी सीटों पर अकेले लड़ेगी. फारूक अब्दुल्ला ने साथ ही यह भी संकेत दिया कि वह भविष्य में बीजेपी की अगुवाई वाले एनडीए (NDA) में फिर से शामिल हो सकते हैं. फारूक अब्दुल्ला ने कहा कि नेशनल कॉन्फ्रेंस दूसरे राजनीतिक दलों के साथ गठबंधन किए बिना अपनी योग्यता के आधार पर चुनाव लड़ेगी. हालांकि जम्मू-कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री फारूक अब्दुल्ला ने एनडीए में लौटने की संभावना से इनकार नहीं किया.

जब अटल बिहारी वाजपेयी सरकार में थे तब नेशनल कॉन्फ्रेंस एनडीए का हिस्सा थी. जम्मू-कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री और काफी अनुभवी नेता माने जाने वाले फारूक अब्दुल्ला ने कहा कि ‘इंडिया’ गठबंधन के साझेदारों के साथ सीट बंटवारा करने की बातचीत विफल हो गई है. अब्दुल्ला ने संवाददाताओं से कहा कि जहां तक सीट बंटवारे का सवाल है, मैं यह साफ करना चाहता हूं कि नेशनल कॉन्फ्रेंस अपने बल पर चुनाव लड़ेगी. इसमें कोई दो राय नहीं है. इंडिया ब्लॉक और नेशनल कॉन्फ्रेंस के बीच दरारें पिछले महीने से ही दिखने लगी हैं. जनवरी में पूर्व सीएम ने कहा था कि अगर सीट-बंटवारे का फॉर्मूला जल्द तय नहीं किया गया तो कुछ विपक्षी दल एक अलग गठबंधन बना सकते हैं.

गौरतलब है कि प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने जम्मू-कश्मीर क्रिकेट एसोसिएशन (जेकेसीए) से संबंधित धनशोधन मामले में पूछताछ के लिए नेशनल कॉन्फ्रेंस के अध्यक्ष फारूक अब्दुल्ला को पिछले दिनों एक नया समन जारी किया है. आधिकारिक सूत्रों ने सोमवार को यह जानकारी दी. उनसे श्रीनगर में ईडी कार्यालय में पेश होने को कहा गया था. केंद्रीय एजेंसी ने इससे पहले 86 वर्षीय अब्दुल्ला को इस मामले में 11 जनवरी को तलब किया था, लेकिन वह पेश नहीं हुए थे.

Lok Sabha Election 2024: अब कोई इफ-बट न किंतु-परंतु… राहुल और प्रियंका इस सीट से लड़ेंगे चुनाव… इन 40 सीटों पर भी बन गई बात!

फारूक अब्दुल्ला के करीबी सूत्रों ने कहा कि इस बार भी उनके केंद्रीय एजेंसी के श्रीनगर कार्यालय में पेश होने की उम्मीद नहीं है. ईडी की जांच जम्मू-कश्मीर क्रिकेट एसोसिएशन में कथित वित्तीय अनियमितताओं से संबंधित है. यह मामला केंद्रीय अन्वेषण ब्यूरो (सीबीआई) द्वारा 2018 में दायर आरोपपत्र पर आधारित है.

Tags: 2024 Lok Sabha Elections, BJP, Congress, Dr Farooq Abdullah, Farooq Abdullah