दीप्ति नवल की बेटी क्यों बोलीं- ‘अभी भी बच्चे हैं नाना पाटेकर’, मटन के शौकीन है ‘कोहराम’ एक्टर

0

मुंबई. फिल्म निर्माता प्रकाश झा और एक्ट्रेस दीप्ति नवल की बेटी दिशा झा ने दिग्गज एक्टर नाना पाटेकर के साथ काम करने का अपना एक्सपीरियंस शेयर किया है. उन्होंने बताया कि नाना ने टीम के लिए बहुत शौक से मटन बनाया. बता दें कि दिशा वेब सीरीज ‘संकल्प’ सीरीज के साथ प्रोड्यूसर के तौर पर ओटीटी प्लेटफॉर्म पर अपनी शुरुआत कर रही हैं. दिशा ने फिल्मों में अपने करियर की शुरुआत ‘राजनीति’ से की थी. इस फिल्म में उन्होंने कॉस्ट्यूम असिस्टेंट के तौर पर काम किया था. उन्होंने इससे पहले ‘फ्रॉड सैंया’ को प्रोड्यूस किया था.

दिशा झा ने कहा कि नाना पाटेकर उनके गार्जियन की तरह हैं. जब वह पैदा हुई थीं तो नाना उन्हें देखने वाले पहले लोगों में से एक थे. पुरानी यादों के बारे में बात करते हुए दिशा ने कहा, “‘राजनीति’ में उनके साथ काम करना एक अलग एक्सपीरियंस था, क्योंकि मैं तब एक कॉस्ट्यूम असिस्टेंट थी. उस वक्त मेरा काम कॉस्ट्यूम को कैरी करने का स्टाइल, चश्मे को पकड़ने के तरीके, अंगरखा किस तरह था जैसी चीजों को लेकर सावधान रहना था.”

वेब सीरीज ‘संकल्प’ में नाना पाटेकर

दिशा झा ने एक फिल्ममेकर के तौर पर ‘संकल्प’ में नाना पाटेकर के साथ दोबारा काम करने के अपने एक्सपीरियंस के बारे में बात की. उन्होंने कहा, ”वह दिल से अभी भी बच्चे है, उन्हें लोगों के बीच रहना पसंद है. मैं शायद ही उन्हें अपनी वैनिटी में वापस जाते देखती हूं. वह सेट पर सबके साथ खाना खाते थे और हमेशा चेक करते थे कि स्पॉट बॉय सहित सभी ने खाना खा लिया है या नहीं.”

दीप्ति नवल की बेटी दिशा के साथ नाना पाटेकर. (आईएएनएस)

टीम और को-एक्टर्स को लाकर खिलाते थे मटन

दिशा झा ने आगे कहा, “उन्हें एडी के साथ बैठना और हंसी-मजाक करना पसंद था. उन्हें अपना खाना बहुत पसंद था. उन्हें खाना पकाने में भी मजा आता था. वह मटन को बहुत शौक से पकाते थे और वह इसे अक्सर पूरी टीम, एडी, टेक्निशियन और को-स्टार्स के लिए बनाते थे.”

नाना पाटेकर संग 30 दिन तक की शूटिंग

दिशा झा ने आगे कहा, ”मेरे लिए, उन एक्टर्स के साथ काम करना हमेशा खुशी की बात है जिनके आसपास मैं बड़ी हुई हूं. यह बिल्कुल भी काम जैसा नहीं लगता. हमने नाना सर के साथ लगभग 30 दिनों तक शूटिंग की, हमने इतना आनंद लिया कि समय बीतता गया और इससे पहले कि हमें पता चलता, वह शेड्यूल खत्म होने पर सेट छोड़ रहे थे.”

Tags: Nana patekar, Prakash jha