ऑल टाइम ब्लॉकबस्टर देने वाले मशहूर विलेन का बेटा, करियर में नहीं दी 1 भी हिट, आज भी है इस गलती का पछतावा

0

नई दिल्ली. साल 1997 में सिनेमाघरों में दस्तक देने वाली फिल्म ‘राजा की आएगी बारात’ से रानी मुखर्जी ने एक्टिंग की दुनिया में कदम रखा था. हालांकि उनकी ये फिल्म कुछ खास कमाल नहीं दिखा पाई थी. इस फिल्म में उनके अपोजिट इंडस्ट्री के खूंखार विलेन के बेटे शादाब खान नजर आए थे. इस फिल्म से उन्होंने अपने करियर की शुरुआत की थी, लेकिन बहुत जल्द ही उनका करियर समाप्त हो गया.

घर ग्रहस्थी की कहानी दर्शानी वाली इस फिल्म में रानी मुखर्जी के काम को काफी पसंद किया गया था. इस फिल्म में शादाब खान ने पिता की तरह ही विलेन का किरदार निभाया था. दुबला पतला हीरो जिसकी आंखों में गुस्सा ही गुस्सा नजर आया, डेब्यू फिल्म में शादाब का ऐसा किरदार लोगों को जरा पसंद नहीं आया था. हालांकि ऑलटाइम ब्लॉकबस्टर फिल्म ‘शोले’ में गब्बर सिंह का किरदार निभाने वाले दिग्गज एक्टर अमजद खान ने अपने हर किरदार से खूब वाहवाही लूटी थी. जबकि उनके बेटे की पहली ही फिल्म बड़ी फ्लॉप साबित हुई थी.

1981 की हिट फिल्म, कॉस्ट्यूम के चलते जिसमें डायरेक्टर से भिड़ गई थीं हेमा मालिनी, धर्मेंद्र से जुड़ी थी वजह

साल 1997 में की करियर की शुरुआत
फिल्म इंडस्ट्री के मशहूर विलेन और गब्बर सिंह के नाम से पहचाने जाने वाले अमजद खान के बेटे शादाब खान बॉलीवुड में आते ही पहचान तो बनाने में कामयाब हुए लेकिन दर्शकों ने उनके काम को जरा भी पसंद नहीं किया था. उन्होंने 1997 में आई फिल्म राजा की आएगी बारात से अपने सिने करियर की शुरुआत की. लेकिन इस फिल्म के बाद वह दो या तीन ही फिल्मों में नजर औए और उन्होंने एक्टिंग की दुनिया को अलविदा कह दिया.

शादाब खान ने रानी के पति की भूमिका निभाई थी.

रानी मुखर्जी की लगी थी लॉटरी
रानी मुखर्जी के करियर की भी ये पहली फिल्म थी. फिल्म भले ही फ्लॉप साबित हुई हों. लेकिन इस फिल्म में उनके किरदार और उनकी एक्टिंग को काफी पसंद किया गया था. खासतौर पर इस फिल्म में रानी मुखर्जी के डायलॉग तो काफी पॉपुलर हुए थे. इस फिल्म के अलावा शादाब ने बेताबी में चंद्रचूर सिंह और अरशद वारसी के साथ सपोर्टिंग रोल किया, लेकिन इस फिल्म में भी वह लोगों का दिल जीतने में नाकामयाब साबित हुए थे.

बता दें कि जहां गब्बर सिंह का नाम लोग आज भी नहीं भूल पाए हैं, वहीं उनके बेटे शादाब खान ने अपने करियर में एक भी हिट फिल्म नहीं दी. उन्होंने अपने करियर में जितना भी काम किया वह उन्हें पहचान नहीं दिला पाया. अपने एक पुराने इंटरव्यू में उन्होंने बताया था कि मुझे राजा की आएगी बारात से डेब्यू नहीं करना था. उस समय मैं बहुत छोटा था और मेरा वजन 145 किलो था. बाद में मैंने वजन घटाया और फिल्म में मैं काफी दुबला पतला दिखा था. दरअसल, विनोद खन्ना उन्हें फिल्म हिमालय पुत्रसे लॉन्च करना चाहते थे और इस एक गलती का शादाब को आज भी पछतावा है.

Tags: Amjad Khan, Bollywood actors, Rani mukerji

Leave A Reply

Please enter your comment!
Please enter your name here